Sun. Jul 14th, 2024
    vishv hindu parishad

    उत्तर प्रदेश के कासगंज में गणतंत्र दिवस के मौके पर तिरंगा यात्रा के दौरान युवक की मौत के बाद देशभर में गुस्सा जाहिर हो रहा है। इसी बीच विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने आगरा में तिरंगा यात्रा निकाली। विहिप संगठन ने जिला प्रशासन को एक ज्ञापन प्रस्तुत किया जिसमें कई मांगे की गई है।

    विहिप ने आगरा में तिरंगा यात्रा निकालकर संदेश दिया कि तिरंगा यात्रा निकालना कोई अपराध नहीं है। विश्व हिन्दू परिषद की ये यात्रा ब्रज क्षेत्र में आगरा, अलीगढ़ और बरेली डिवीजनों के 20 जिलों से निकली। पुलिस ने तिरंगा यात्रा के मद्देनजर सुरक्षा बलों की पुख्ता तैनाती की है।

    विहिप ने यात्रा के जरिए दोषियों को ऐलान किया कि देश में तिरंगा यात्रा हर कोई निकाल सकता है। ये यात्रा कासगंज हिंसा में मरे चंदन गुप्ता को इंसाफ दिलाने व दोषियों की गिरफ्तारी करने के लिए निकाली गई।

    तिरंगा यात्रा के जुलूस से पहले आगरा के पुलिस अधीक्षक कुंवर अनुपम सिंह ने कहा कि पुलिस को इस बारे में कोई जानकारी नहीं है और अनुमति मांगना अनिवार्य है। इस पर विहिप नेता ने कहा कि तिरंगा हमारा राष्ट्रीय ध्वज है, हाथ में तिरंगा यात्रा लेकर यात्रा निकालने के लिए पुलिस या प्रशासन से कोई मंजूरी लेने की जरूरत नहीं है।

    चंदन गुप्ता को शहीद का दर्जा देने की मांग

    विहिप ने चंदन गुप्ता को शहीद का दर्जा देने की मांग की है। शहीद के परिवार को सरकारी नौकरी, मकान व 50 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने की मांग प्रशासन से की है।

    गौरतलब है कि 26 जनवरी के दिन कासगंज में तिरंगा यात्रा के दौरान हुई हिंसा में एक युवक की मौत हो गई थी। पुलिस ने अब तक कम से कम 114 लोगों को हिंसक घटनाओं के लिए हिरासत में लिया है।