Fri. Feb 3rd, 2023
    कश्मीर विवाद नई दिल्ली इस्लामाबाद

    पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी ने भारत-पाकिस्तान के रिश्ते को लेकर बयान दिया है। महमूद कसूरी ने कश्मीर विवाद को लेकर कहा कि इस मुद्दे पर बातचीत ही एकमात्र विकल्प है। बातचीत के अलावा अन्य कोई भी ऐसा विकल्प नहीं है जिससे कश्मीर विवाद को शांतिपूर्वक सुलझाया जा सकता है।

    इसके अलावा पूर्व विदेश मंत्री कसूरी ने कहा कि इस्लामाबाद के लिए नई दिल्ली काफी अहम स्थान स्थान रखता है व अत्यन्त महत्वपूर्ण है। जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

    दरअसल नई दिल्ली में गुरूवार को भारत-पाकिस्तान संबंध के वर्तमान परिदृश्य पर एक इवेंट का आयोजन किया गया था ।

    जिसमें पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी व कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने शिरकत की।

    इस इवेंट में पाक के पूर्व विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान के लिए भारत एक महत्वपूर्ण देश है। भारत को पाकिस्तान द्वारा नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। भारत काफी विशाल देश है। भारत की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत में प्रचुर मात्रा में संसाधनों की उपलब्धता है।

    वहीं कश्मीर मुद्दे को लेकर महमूद कसूरी ने कहा कि कश्मीर विवाद पर भारत व पाकिस्तान के बीच में युद्ध भी हो चुका है लेकिन अभी तक कोई परिणाम नहीं निकला है। इससे हम पीड़ित है। इसलिए भारत व पाकिस्तान को शांति वार्ता के जरिए ही कश्मीर विवाद को सुलझाना चाहिए।

    आगे कहा कि अगर कश्मीर को लेकर युद्ध हुआ तो किसी को भी जीत नहीं मिलेगी बल्कि दोनों को ही हार मिलेगी। युद्ध करना स्थायी समाधान नहीं हो सकता है। कसूरी ने कहा कि मेरा मानना है कि कश्मीर विवाद पर बातचीत के अलावा अन्य कोई हल नहीं निकल सकता है। भारत व पाकिस्तान को एक साथ प्रगति करनी चाहिए।

    डोनाल्ड ट्रम्प पर भी साधा निशाना

    पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री ने इस दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के ऊपर भी जमकर निशाना साधा। इन्होंने कहा कि ट्रम्प पाकिस्तान को अलग करने की बात करते है, पाकिस्तान को अलग नहीं किया जा सकता है।

    पाकिस्तान केवल आपके रणनीतिक स्थान के लिए ही महत्वपूर्ण नहीं है अपितु यह एक मुस्लिम हिस्सा भी है। पाक के पूर्व विदेश मंत्री ने आगे कहा कि पाकिस्तान अलग नहीं है बल्कि अमेरिका अलग है।