Sat. Jul 13th, 2024
    सिद्धरमैया

    सिद्धारमैया की कर्नाटक सरकार द्वारा अगल झंडे की मांग को आज केंद्र सरकार ने ठुकरा दिया है। केंद्र ने कहा है कि देश के सविंधान में किसी तरह के अलग झंडे का कोई भी प्रावधान नहीं है। गृह मंत्रालय ने ‘एक देश एक झंडा’ कथन को आधार मानते हुए कहा है कि तिरंगा ही पुरे देश का झंडा है।

    आपको बता दें कर्नाटक में कांग्रेस सरकार द्वारा एक अलग झंडे की मांग की गयी थी। इस मांग को लेकर एक ९ सदस्यों की कमिटी बनायीं गयी है जिसे मुख्य मंत्री सिद्धारमैया संचालित कर रहे हैं। इस मांग का कड़ा विरोध करते हुए केंद्र सरकार ने कहा है कि देश का सविंधान अलग झंडे का इस्तेमाल करने की इज़ाज़त नहीं देता है। इसके अलावा कर्नाटक राज्य का एक झंडा है जो जनता को सम्बोधित करता है। हालाँकि कर्नाटक सरकार इस झंडे को किसी सरकारी आयोजन में इस्तेमाल नहीं कर सकती है।

    गृह मंत्रालय ने कहा है कि भारत का सिर्फ एक ही झंडा है और वह है तिरंगा। किसी भी राज्य को अपने अलग झंडे का इस्तेमाल करने का कोई हक़ नहीं है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।