Fri. Jun 14th, 2024
    बसपा सुप्रीमो मायावती

    उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव में बीजेपी ने जबरदस्त जीत दायर की है। लेकिन वहीं 2014 में एक भी सीट हासिल नहीं करने वाली पार्टी बहुजन समाजवादी पार्टी ने निकाय चुनाव में दो सीटें जीत कर फिर से पार्टी को सवारा है। बता दे कि बहुजन समाजवादी पार्टी पहली बार नगर निगम चुनाव में अपना भाग्य आजमाने उतरी थी। जिसका परिणाम यह हुआ कि पार्टी ने दो सीटें अपनी झोली में डाली। पार्टी के निकाय चुनाव प्रदर्शन पर पार्टी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि हम समाज के दलित और मुस्लिम तबके के लोगो को साथ लाना चाहते थे। इसलिए पार्टी सिम्बल पर चुनाव लड़ने का फैसला किया।

    चुनावी नतीजे पर बोलते हुए मायावती ने कहा कि दलित के साथ साथ सवर्ण समाज के लोगो ने भी पार्टी को समर्थन दिया है। जो की पार्टी के लिए अच्छे संकेत है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम तबका शुरूआती दौर से ही पार्टी के साथ है। मायावती ने कहा कि बीजेपी के तमाम अटकले लगाने के बाद भी पार्टी ने दो सीटें अपने नाम की और दूरसे स्थान पर बनी रही।

    बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा को घेरते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव से लेकर विधानसभा चुनाव तक बीजेपी ने ईवीएम मशीन से छेड़ छाड कर चुनाव जीती है। उन्होंने कहा कि इस बार यूपी निकाय चुनाव में बीजेपी ने यह साबित कर दिया है कि वह ईवीएम से छेड़ छाड़ करती है। मायावती ने कहा कि बीजेपी भले ही आज सरकार में हो, लेकिन आज भी मुझे भरोसा है कि बहुजन समाज के साथ अन्य समुदाय के लोग हमारे साथ है। उन्होंने अपने पार्टी विशेष के बारे में कहा कि हमारी पार्टी शुरू से ही सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय के नारे पर चुनाव लड़ती है।

    निकाय चुनाव में भी बीजेपी पर ईवीएम मशीन से छेड़ छाड़ का आरोप लगाते हुए मायावती ने कहा कि अगर ईवीएम से छेड़ छाड़ नहीं होता तो पार्टी और सीटें जीतती। उन्होंने कहा कि अगर ईवीएम के बजाय भाजपा बैलेट पेपर के जरिए चुनाव कराती तो सत्ता हासिल कर पाना उसके लिए मुश्किल था। भविष्य की राजनीती पर चर्चा करते हुए मायावती ने कहा कि वह पुरे देश में रैलिया करने जा रही है। जिसका मकसद बीजेपी के बढ़ते रथ को रोकना है।

    यूपी निकाय चुनाव के 16 नगर निगम सीटों पर भाजपा ने 14 सीटें जीती है तो वहीं बसपा ने 2 सीट जीत कर दूसरे स्थान पर बरक़रार है। बसपा ने अलीगढ और मेरठ की सीट भाजपा उम्मीदवार से जीती है। और इसे बहुजन समाजवादी पार्टी एक अच्छा संकेत मानती है।