Tue. Apr 16th, 2024
    यूरोप मिसाइल रेंज

    ईरान ने यूरोप को चेतावनी जारी की है। ईरान ने कहा है कि अगर यूरोप द्वारा उसे धमकी दी जाएगी तो वो अपने मिसाइल कार्यक्रम में बढ़ोतरी कर सकता है। ईरान के क्रांतिकारी गार्ड के उप-प्रमुख ने यूरोप को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर तेहरान को धमकी दी जाती है तो हम अपनी मिसाइलों की रेंज को 2000 किलोमीटर से ज्यादा तक विस्तार करेंगे।

    ब्रिगेडियर जनरल हुसैन सलामी ने कहा कि “अगर हमने अपनी मिसाइलों की सीमा 2000 किलोमीटर तक रखी है तो यह हमारी तकनीक की कमी के कारण नहीं है। बल्कि हम एक रणनीतिक सिद्धांत का पालन कर रहे है।”

    आगे कहा कि अभी तक हमने महसूस किया है कि यूरोप हमारे लिए खतरा नहीं है। इसलिए अभी तक हमने मिसाइलों की रेंज में वृद्धि नहीं की है। लेकिन अगर यूरोप हमारे लिए खतरा पैदा करता है तो हम अपनी मिसाइलों की रेंज में वृद्धि करेंगे।

    अमेरिका ने ईरान पर लगाया था आरोप

    गौरतलब है कि ईरान के क्रांतिकारी गार्ड्स सेना बल के प्रमुख मेजर जनरल मोहम्मद अली जाफरी ने पिछले महीने कहा था कि ईरान की 2000 किलोमीटर मिसाइल सीमा क्षेत्र के भीतर अमेरिकी हितों और ताकतों के अधिकांश हिस्सों को कवर कर सकती है इसलिए ईरान को इसे विस्तारित करने की आवश्यकता नहीं है।

    ईरान मध्य पूर्व के सबसे बड़े मिसाइल कार्यक्रमों में से एक है और इसकी सटीक-निर्देशित मिसाइलों में इजरायल पर हमला करने की सीमा है। वहीं ईरान का बार-बार कहना है कि उसका मिसाइल कार्यक्रम सिर्फ रक्षात्मक है।

    गौरतलब है कि इससे पहले अमेरिका ने ईरान पर आरोप लगाया था कि ईरान ने यमन के हूती विद्रोहियों को मिसाइल की आपूर्ति की है। जिसे ईरान ने साफ तौर से इंकार कर दिया था।

    ईरान ने कहा था कि यमन पूरी तरह से नाकाबंदी में है, वहां पर कोई भी सामान नहीं पहुंचाया जा रहा तो हम उन्हें मिसाइल कैसे पहुंचा सकते है। क्रांतिकारी गार्ड्स के प्रमुख जाफरी ने गुरुवार को कहा कि ईरान केवल हूतियों को सलाह और आध्यात्मिक सहायता प्रदान करता है।