Tue. Jul 23rd, 2024
    अगुंग-ज्वालामुखी-इंडोनेशिया

    इंडोनेशिया के बाली द्वीप के पास अगुंग पर्वत पर ज्वालामुखी में लगातार विस्फोट हो रहा है। जिसके बाद प्रशासन ने सोमवार को हाई अलर्ट जारी करते हुए आस-पास के क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को जगह खाली करने की चेतावनी जारी की है।

    बाली के एयरपोर्ट को 24 घंटों के लिए बंद कर दिया है और बाली की करीब 445 उड़ाने बाधित हुई है। ज्वालामुखी में लगातार विस्फोट होने से धुंआ व राख काफी ऊपर तक उठती हुई दिख रही है। छुट्टियां मनाने के लिए प्रसिद्ध बाली द्वीप में हजारों की संख्या में यात्री फंसे हुए है।

    इंडोनेशिया प्रशासन ने निवासियों को एक बड़े विस्फोट होने की आंशका जताई है। इंडोनेशिया की आपदा निवारण एजेंसी ने बयान में कहा है कि बाली द्वीप के पास ज्वालामुखी के शिखर से करीब 12 किलोमीटर दूर तक लगातार हो रहे विस्फोटों की आवाज सुनी जा रही है।

    साथ ही बड़े विस्फोट होने की संभावना जताई है। अगुंग ज्वालामुखी के पास के करीब 8-10 किलोमीटर क्षेत्र में आने वाले लोगों को स्थान छोड़ने की चेतावनी जारी कर दी गई है जिसके बाद प्रशासन ने इन क्षेत्रों को खाली भी करवा दिया है।

    गौरतलब है कि बाली द्वीप में इससे पहले अगुंग ज्वालामुखी में विस्फोट साल 1963 में हुआ था जिसमें करीब 1000 से ज्यादा लोग मारे गए थे।

    बड़ी संख्या में उड़ाने की रद्द

    ऑस्ट्रेलिया के पास डार्विन में ज्वालामुखीय ऐश सलाहकार केंद्र के अनुसार ज्वालामुखी आस-पास के क्षेत्रों में 30,000 फीट पर उड़ान स्तर को ये प्रभावित करता है। इसके अलावा डेन्पासर हवाई अड्डे की जमीन पर ज्वालामुखी के राख की पुष्टि की है।

    ज्वालामुखी राख मौजूद होने से विमान उड़ान भरने से बचते हैं क्योंकि यह विमान इंजन को महत्वपूर्ण नुकसान पहुंचा सकता है। जिससे संभव इंजन की विफलता हो सकती है और पायलट को दिखने में भी समस्या होती है।

    बाली द्वीप के पास आए ज्वालामुखी में आस-पास के एयरपोर्ट को एहतियात के तौर पर 24 घंटे के लिए बंद कर दिया है। एक ऑपरेटर ने अपने बयान में कहा है कि कुल 445 उड़ानें जिसमें 196 अंतरराष्ट्रीय और 249 घरेलू उडानों सहित करीब 59,000 यात्री प्रभावित हुए है।

    इसके अलावा पड़ोसी राज्यों में पांच वैकल्पिक हवाईअड्डा तैयार किए गए है। बाली हवाई अड्डे के आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार सिंगापुर एयरलाइंस, श्रीविजय, गरुडा इंडोनेशिया, मलेशिया एयरलाइंस और जेटस्टार द्वारा संचालित उड़ानों को रद्द कर दिया गया था। फंसे लोग यहां पर छुट्टिया मनाने के लिए आए हुए थे अब वो चिंतित नजर आ रहे है।

    समुद्री तटों व मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है बाली

    बाली द्वीप में छुट्टियां मनाने लाखों की संख्या में पर्यटक आते है। बाली द्वीप समुद्री जगहों, मंदिरों व तटों के लिए काफी प्रसिद्ध है। पिछले साल भी करीब यहां पर 5 लाख पर्यटक घूमने के लिए आए थे। लेकिन हाल ही में अगुंग ज्वालामुखी में विस्फोट के चलते सिंतबर से पर्यटकों की संख्या काफी घट गई है।