Thu. Feb 9th, 2023
    राजद

    आज राजद का नीतीश सरकार द्वारा लिए गए नई रेत खनन नीति के विरोध में बिहार बंद है। इस बंद के कारण समूचे प्रदेश में जनजीवन अस्त व्यस्त है। सबसे ज्यादा बंद का असर यातयात तथा निजी स्कूलों पर देखने को मिल रहा है। आज सुबह से ही तय योजना के अनुसार राजद कार्यकर्ता बंद को सफल बनाने के लिए सुबह से कठोर परिश्रम कर रहे है।

    जगह जगह सरकार के इस फैसले के खिलाफ राजद कायकर्ता नारे लगा रहे है। कई जगह पर समर्थकों ने आगजनी भी की है जिससे प्रदेश में माहौल गंभीर बन गया है। आज कई ट्रेनों को भी बंदस्वरूप रुकवाया गया जिससे यात्रियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। बंद का सबसे ज्यादा असर हस्पतालों, और निजी स्कूलों पर देखने को मिल रहा है।

    अधिकांश निजी स्कूलों को आज बंद कर दिया गया है। अस्पताल खुले तो है लेकिन सड़क जाम, तथा बंद के कारण मरीज वहां तक पहुँचने में समर्थ नहीं है। हालत कितनी गंभीर है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आज वैशाली में जाम लगा रहे आरजेडी कार्यकर्ताओं ने एक एम्बुलेंस को पटना नहीं आने दिया, इससे एक महिला मरीज की मौत हो गई।

    सेक्युलर पार्टी होने का दावा भरने वाली राजद ने बिहार बंद से सिख श्रदालुओं को राहत दी है। यह बात गौर करने वाली है कि पटना में इन दिनों प्रकाश प्रव की तैयारियां पुरे जोरों पर चल रही है जिस कारण हजारों की संख्या में सिख श्रदालुओं का आना जाना यहां लगा हुआ है। लालू ने सिख श्रदालुओं को यह भरोसा दिलाया है कि बंद का तनिक भी असर उनपर नहीं पड़ेगा। लालू ने यह भी कहा है कि सिखों की किसी भी गाडी को बंद के दौरान बिहार में कहीं आने जाने से नहीं रोका जाएगा।

    बिहार बंद के दौरान राजद समर्थकों ने ट्रैन रुकवाया
    बिहार बंद के दौरान राजद समर्थकों ने ट्रैन रुकवाया

    राजद का विरोध प्रदर्शन शान्तिपूर्वक ना होकर अब हिंसक रूप लेने लगी है। आज कई ट्रेनों की पटरियों पर समर्थकों ने आगजनी की तथा गया-किउल पैसेंजर ट्रेन और पटना-रांची जनशताब्दी ट्रेन को समर्थकों ने रोक दिया। बंद का आलम यह है कि लालू के दोनों बेटे खुद सड़क पर उतर आए है।

    बंद के दौरान राजद समर्थकों ने की आगजनी
    बंद के दौरान राजद समर्थकों ने की आगजनी

    वैसे नितीश ने कल यू टर्न लेते हुए यह बात साफ़ कर दी थी कि राज्य में पुरानी रेत नीति ही लागू रहेगी लेकिन उसके बावजूद राजद ने बंद को जारी रखा है। लालू नितीश की किसी भी बात का भरोसा नहीं करना चाहते है।

    फैसले के बाद लालू के बेटे तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया था कि “जबतक सरकार मज़दूरों की पूर्ण माँगों और विगत महीनों में उनको हुए आर्थिक नुक़सान की भरपाई नहीं करती राजद का विरोध और संघर्ष चलता रहेगा। कल बिहार बंद जारी रहेगा”

    एक और ट्वीट में तेजस्वी ने बंद को जारी रखने का सन्देश देते हुए लिखा था कि “नो कन्फ़्यूज़न! कल राजद का बिहार बंद मज़बूती से जारी रहेगा। सत्ता नहीं ग़रीबों के लिए संघर्ष ही हमारी राजनीति है।”