Wed. May 29th, 2024
    एम जे अकबर

    भारत ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट पर इराक की जीत के लिए प्रशंसा की है। भारत ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकवादी संगठन पर इराक को जीत के लिए बधाई दी और इराक की आर्थिक पुनर्निर्माण प्रक्रिया में अपनी प्रतिबद्धता का आश्वासन दिया है।

    विदेश मामलों के राज्य मंत्री एम जे अकबर ने कुवैत में इराक के पुनर्निर्माण के लिए अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में कहा कि भारत ने इराक को सहायता के लिए आश्वासन दिया है। इराक में युद्ध के बाद नष्ट हुए कर्बला में अस्पताल के पुनर्निर्माण करने का प्रस्ताव भारत रखा था।

    अकबर ने कहा कि भारत ने इराक की तत्काल जरूरतों व आर्थिक पुननिर्माण के लिए सहायता का आश्वासन दिया है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव की तत्काल अपील पर भारत ने इराकी लोगों के लिए सहायता के लिए 20 मिलियन डॉलर का योगदान दिया। भारत अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के तहत इराक को युद्धग्रस्त हुए इलाको को सुधारने के लिए मदद करेगा।

    भारत ने विश्व खाद्य कार्यक्रम के माध्यम से उन्हें दूध की आपूर्ति की है। इसके साथ ही सीरिया में इराकी स्कूल के बच्चों और इराकी शरणार्थियों को सहायता प्रदान की।

    भारत ने इराकी विदेश सेवा के अधिकारियों और सूचना प्रौद्योगिकी के अन्य इराकी अधिकारियों को प्रशिक्षित किया। इराक में निवेश, पुनर्निर्माण और विकास के लिए भी भारत अंतरराष्ट्रीय पुनर्निर्माण निधि के लिए 1 करोड़ डॉलर का योगदान दे रहा है।

    इसके अलावा भारत ने उन सभी राष्ट्रो को बधाई दी है जिन्होंने आईएस के खात्मे में इराक व सीरीया जैसे देशों को मदद की है। एम जे अकबर ने कहा कि हमें बहुलवाद और सभ्यता की रक्षा के लिए एकजुट होना चाहिए। भारत ने हमेशा एक स्वतंत्र, लोकतांत्रिक, बहुलवादी, संघीय और एकीकृत इराक का समर्थन किया है।