रविवार, सितम्बर 22, 2019
Array

अफगान राष्ट्रपति ने पाकिस्तानी पीएम को नजरअंदाज कर पीएम मोदी से की ‘मन की बात’

Must Read

विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप : पंघल के हाथ से स्वर्ण फिसला (राउंडअप)

एकातेरिनबर्ग, 21 सितंबर (आईएएनएस)। भारत के पुरुष मुक्केबाज अमित पंघल शनिवार को यहां जारी विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के 52...

कर्नाटक में उपचुनाव की घोषणा से बागी विधायकों को झटका

नई दिल्ली, 21 सितंबर (आईएएनएस)। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को कर्नाटक में 21 अक्टूबर को उपचुनावों की घोषणा कर...

देहरादून शराब कांड में कोतवाल, चौकी इंचार्ज निलंबित

देहरादून, 21 सितंबर 2019 (आईएएनएस)। यहां जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में शहर कोतवाल सहित दो पुलिस...

वर्तमान में भारत व अफगानिस्तान के बीच काफी मजबूत संबंध बने हुए है। भारत अपने पडोसी देश अफगानिस्तान के विकास के लिए लगातार निवेश कर रहा है और आर्थिक मदद भी दे रहा है। पिछले कुछ दिनों में अफगान को आतंकवाद से लगातार जूझना पड़ रहा है। आतंकवादी हमलो में पिछले दिनों करीब सैकडों निर्दोष लोगों की जान गई है।

अफगानिस्तान ने आतंकी हमलों के लिए पाकिस्तान व आईएसआई को दोषी बताया है। इसी बीच भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के बीच में फोन पर बातचीत हुई है। इस दौरान पीएम मोदी ने काबुल में हुए आतंकी हमलों पर संवेदना जाहिर करते हुए हरसंभव मदद करने का विश्वास दिलाया।

आतंकवाद के ऊपर कठोर कार्रवाई करने पर भी दोनों नेताओं ने जोर दिया। विभिन्न रिपोर्टों ने दावा किया था कि पाकिस्तानी पीएम शाहिद खाकन अब्बासी से फोन पर वार्ता करने के लिए अफगान राष्ट्रपति ने इंकार कर दिया था। जिसके बाद ही अफगान राष्ट्रपति व पीएम मोदी के बीच में फोन पर वार्ता की गई।

इससे साफ संकेत पाकिस्तान को दिया गया है कि अफगान ,भारत को प्राथमिकता देते हुए मजबूत संबंधों को जारी रखना चाहता है। पीएम मोदी और गनी के बीच 20 मिनट की बातचीत के दौरान नई दिल्ली और काबुल की “साझा चिंता” पर चर्चा की गई।

पाकिस्तान के ऊपर अफगान का आतंकी हमला कराने का आरोप

अशरफ गनी ने ट्वीट करके कहा कि फोन पर पीएम मोदी ने पड़ोस (पाकिस्तान) में स्थित आतंकवादी समूहों व सुरक्षित पनाहगारों को खत्म करने की जरूरत पर जोर दिया। साथ ही निर्दोष मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की। इससे साबित होता है कि पाकिस्तान का चेहरा आतंकवाद की शह देने पर बेनकाब होता नजर आ रहा है।

भारत, अफगानिस्तान व अमेरिका कई बार पाकिस्तान के ऊपर आतंकवाद को शह देने का आरोप लगा चुके है। काबुल हमलों में पाकिस्तान का हाथ होने का सबूत देने के लिए अफगानिस्तान मे अपना प्रतिनिधिमंडल भी इस्लामाबाद में भेजा है।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप : पंघल के हाथ से स्वर्ण फिसला (राउंडअप)

एकातेरिनबर्ग, 21 सितंबर (आईएएनएस)। भारत के पुरुष मुक्केबाज अमित पंघल शनिवार को यहां जारी विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के 52...

कर्नाटक में उपचुनाव की घोषणा से बागी विधायकों को झटका

नई दिल्ली, 21 सितंबर (आईएएनएस)। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को कर्नाटक में 21 अक्टूबर को उपचुनावों की घोषणा कर दी है। इससे कांग्रेस और...

देहरादून शराब कांड में कोतवाल, चौकी इंचार्ज निलंबित

देहरादून, 21 सितंबर 2019 (आईएएनएस)। यहां जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में शहर कोतवाल सहित दो पुलिस अफसरों को निलंबित कर दिया...

पीकेएल-7 : 100वें मैच में गुजरात और जयपुर ने खेला टाई

जयपुर, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के सातवें सीजन के 100वें मैच में शनिवार को यहां सवाई मानसिंह स्टेडियम में जयपुर पिंक...

विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप : दीपक के पास स्वर्णिम अवसर, राहुल की नजरें कांसे पर (राउंडअप)

नूर-सुल्तान (कजाकिस्तान), 21 सितम्बर (आईएएनएस)। भारत के युवा पहलवान दीपक पुनिया ने शनिवार को यहां जारी विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप के 86 किलोग्राम भारवर्ग के...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -