सोमवार, दिसम्बर 9, 2019

हिमाचल प्रदेश चुनाव : भाजपा की सत्ता वापसी, धूमल सुजानपुर से हारे

Must Read

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : तीसरे चरण का मतदान तय करेगा आजसू का राजनीतिक भविष्य

झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए दो चरण का मतदान संपन्न हो जाने के बाद सभी दल तीसरे चरण में...

उत्तर प्रदेश में दो और बलात्कार, औरेया में चलती कार में किया रेप, बिजनौर में नाबालिग के साथ दुष्कर्म

उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराध को लेकर एक ओर जहां जनता में आक्रोश है, वहीं राज्य में...

रणजी ट्रॉफी : सांप के कारण विदर्भ और आंध्र प्रदेश के बीच मैच में हुई देरी

यहां विदर्भ और आंध्र प्रदेश के बीच खेला जा रहा रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए का मैच सांप के कारण...
हिमांशु पांडेय
हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है। मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।

पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश में भाजपा की 5 सालों बाद फिर से सत्ता वापसी हुई है। चुनावी मतगणना से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार भाजपा ने हिमाचल प्रदेश में 44 सीटों पर कब्जा जमा लिया है वहीं कांग्रेस के हाथ 21 सीटें लगी हैं। 3 सीटों पर अन्य दलों को कामयाबी मिली है। भाजपा हिमाचल प्रदेश में बहुमत के लिए जरुरी 35 सीटों के आंकड़ें को पार कर चुकी है। नतीजों के पक्ष में आने के साथ ही हिमाचल प्रदेश में भाजपा की सत्ता वापसी की राह साफ हो गई है।

हालाँकि हिमाचल प्रदेश में जीतने के बावजूद भाजपा के लिए असहज स्थिति तब उत्पन्न हो गई जब उसके मुख्यमंत्री पद के दावेदार प्रेम कुमार धूमल अपने गृह जनपद हमीरपुर की सुजानपुर विधानसभा सीट से चुनाव हार गए। धूमल को कांग्रेस प्रत्याशी राजिन्दर सिंह ने 1919 मतों से हराया। धूमल के अलावा हिमाचल भाजपा के एक अन्य दिग्गज नेता सतपाल सिंह सत्ती भी ऊना से चुनाव हार गए हैं। उन्हें कांग्रेस के सतपाल सिंह रायजादा ने हराया।

सत्ता विरोधी लहर का सामना कर रहे कांग्रेसी दिग्गज और हिमाचल प्रदेश के निवर्तमान मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह अर्की विधानसभा सीट से चुनाव जीतने में सफल रहे हैं। शिमला ग्रामीण सीट से चुनाव लड़ रहे वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह भी चुनाव जीतने में सफल रहे हैं। वहीं हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखराम के बेटे अनिल शर्मा मण्डी से चुनाव जीत गए हैं। अनिल शर्मा वीरभद्र सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं। उन्होंने कांग्रेस पर अपने परिवार का अनादर करने का आरोप लगाकर भाजपा का दामन थाम लिया था।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने हिमाचल प्रदेश के चुनाव परिणामों पर खुशी जताई है। भाजपा के मुख्यमंत्री पद के चेहरे प्रेम कुमार धूमल के चुनाव हारने पर अमित शाह ने कहा कि हम लोगों की भावना का सम्मान करेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पद के लिए उम्मीदवार का चुनाव पार्टी बोर्ड द्वारा किया जाएगा। वहीं प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि उनकी व्यक्तिगत हार कोई मायने नहीं रखती। इससे ज्यादा हिमाचल में भाजपा की जीत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि हार-जीत जिंदगी का हिस्सा है और सभी को इससे दो-चार होना पड़ता है।

सुजानपुर विधानसभा सीट पर प्रेम कुमार धूमल की हार के साथ ही यह स्पष्ट हो गया कि भाजपा को राज्य के लिए नए मुख्यमंत्री की तलाश शुरू करनी होगी। भाजपा आलाकमान ने हिमाचल प्रदेश में मुख्यमंत्री चुनने की जिम्मेदारी वित्त मंत्री अरुण जेटली, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर को सौंपी है। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पद के संभावित दावेदारों में केंद्रीय मंत्री जे पी नड्डा, पूर्व हिमाचल भाजपा प्रदेशाध्यक्ष जयराम ठाकुर और आरएसएस कार्यकर्ता अजय जमवाल के नाम आगे चल रहे हैं। इन सभी को दिल्ली बुला लिया गया है।मुख्यमंत्री का चुनाव भाजपा पार्टी बोर्ड की बैठक में होगा।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : तीसरे चरण का मतदान तय करेगा आजसू का राजनीतिक भविष्य

झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए दो चरण का मतदान संपन्न हो जाने के बाद सभी दल तीसरे चरण में...

उत्तर प्रदेश में दो और बलात्कार, औरेया में चलती कार में किया रेप, बिजनौर में नाबालिग के साथ दुष्कर्म

उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराध को लेकर एक ओर जहां जनता में आक्रोश है, वहीं राज्य में ऐसे मामलों को लेकर शिकायतों...

रणजी ट्रॉफी : सांप के कारण विदर्भ और आंध्र प्रदेश के बीच मैच में हुई देरी

यहां विदर्भ और आंध्र प्रदेश के बीच खेला जा रहा रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए का मैच सांप के कारण देरी से शुरू हुआ। मैच...

पीएम मोदी व कांग्रेस नेताओं ने कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को दीं जन्मदिन की शुभकामनाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को उनके 73वें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी। मोदी ने ट्वीट किया, "श्रीमती सोनिया गांधी...

संसद शीतकालीन सत्र : राज्यसभा ने दिल्ली अग्निकांड पर शोक जताया

राज्यसभा ने सोमवार को दिल्ली के रानी झांसी मार्ग इलाके में भयानक आग की चपेट में आकर 43 मजदूरों के मारे जाने पर शोक...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -