बुधवार, नवम्बर 20, 2019

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पालन करूंगा : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष

Must Read

जेएनयू छात्र मार्च के संबंध में दो मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी बनी चर्चा का विषय

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने...

बिग बाउट लीग: पंजाब टीम में शामिल हुई एमसी मेरीकॉम, निखत जरीन, पिंकी रानी से होगी टक्कर

छह बार विश्व चैम्पियन और ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम को यहां पहली बिग बाउट लीग...

लोकसभा में दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर बोले सांसद गौतम गंभीर, मुद्दे का राजनीतिकरण बंद करें

संसद के शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर पर...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

बेंगलुरू, 17 जुलाई (आईएएनएस)| कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष के.आर. रमेश कुमार ने बुधवार को कहा कि वे सर्वोच्च न्यायालय के उस आदेश का पालन करेंगे, जिसमें कहा गया है प्रदेश के सत्तारूढ़ कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन के 15 बागी विधायकों को सदन की कार्यवाही में शामिल होने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता।

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश देने के तुरंत बाद रमेश कुमार ने कोलार स्थित अपने आवास पर संवाददाताओं से कहा, “मैं 15 बागी विधायकों के इस्तीफे पर सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पालन करूंगा। मैं इस्तीफों पर निर्णय लेने में देर नहीं करूंगा।”

बेंगलुरू से लगभग 100 किलोमीटर दूर कोलार कुमार का गृह चुनाव क्षेत्र है।

कुमार ने कहा कि शीर्ष अदालत ने जैसा कि निर्देश दिया है, वे बागी विधायकों को गुरुवार को सदन में विश्वास मत की कार्यवाही में शामिल होने के लिए बाध्य नहीं करेंगे, जिसमें मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी बहुमत साबित करने के लिए विश्वास मत प्रस्ताव पेश करेंगे।

कुमार ने कहा, “विधानसभा के मामलों की सलाहकार समिति द्वारा सोमवार को तय किए समय के अनुसार, विश्वास मत सदन में गुरुवार को पेश किया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री कुमारस्वामी सत्तारूढ़ और विपक्ष के सदस्यों की बहस के बाद बहुमत परीक्षण के लिए विश्वास मत लाएंगे।”

इस्तीफा देने वाले 16 बागी विधायकों में 13 कांग्रेस के और तीन जद-एस के हैं। इनमें से 15 विधायकों ने सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर कर विधानसभा अध्यक्ष को उनके इस्तीफे स्वीकार करने का निर्देश देने का आग्रह किया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आर. रामलिंगा रेड्डी अपने इस्तीफे पर शीर्ष अदालत नहीं गए। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय में छह जुलाई को इस्तीफा पेश किया था।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

जेएनयू छात्र मार्च के संबंध में दो मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी बनी चर्चा का विषय

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने...

बिग बाउट लीग: पंजाब टीम में शामिल हुई एमसी मेरीकॉम, निखत जरीन, पिंकी रानी से होगी टक्कर

छह बार विश्व चैम्पियन और ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम को यहां पहली बिग बाउट लीग की ड्राफ्ट प्रक्रिया में एनसीआर...

लोकसभा में दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर बोले सांसद गौतम गंभीर, मुद्दे का राजनीतिकरण बंद करें

संसद के शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर पर पहुंच जाने का मुद्दा उठाया...

हालैंड में डच सांसद की हत्या के आरोप में पाकिस्तानी नागरिक को 10 साल की जेल

हालैंड में एक अदालत ने इस्लाम के बारे में विवादित विचार व्यक्त करने वाले एक धुर दक्षिणपंथी सांसद की हत्या की साजिश के जुर्म...

हीरो इलेक्ट्रिक ने सुपरसिख रन के चौथे संस्करण की घोषणा की

भारत के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक ब्रांड हीरो इलेक्ट्रिक ने मंगलवार को यहां वन रेस सुपरसिख रन के चौथे संस्करण के आयोजन की घोषणा की।...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -