गुरूवार, नवम्बर 14, 2019

विजय रुपाणी का दावा : देश में बने रोजगार के अवसरों का 84 फ़ीसदी अकेले गुजरात में

Must Read

गन्ने को प्रदेश के औद्योगिक विकास की बुनियाद बनाएंगे : योगी

लखनऊ, 13 नवम्बर(आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को यहां कहा कि भविष्य में गन्ना प्रदेश...

शी चिनफिंग ने एक्रोपोलिस संग्रहालय का दौरा किया

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और उनकी पत्नी फंग लीयुआन ने 12 नवंबर को ग्रीस के...

हांगकांग चीन का घरेलू मामला : चीन

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। हांगकांग चीन का हांगकांग है। हांगकांग का मामला चीन का घरेलू मामला है। कोई भी...
हिमांशु पांडेय
हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है। मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने सोमवार, 28 अगस्त को दावा किया कि पिछले 1 वर्ष के दौरान देश में पैदा हुए रोजगार के कुल अवसरों के 84 फ़ीसदी अवसर गुजरात में पैदा हुए। उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार ने पिछले एक हफ्ते के दौरान राज्य के 10 लाख युवाओं को रोजगार दिलाया। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी राजकोट के सौराष्ट्र विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्क्रम में युवाओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पिछले 11 सालों से गुजरात देश में रोजगार सृजन के मामले में पहले स्थान पर है। गत वर्ष देश में पैदा हुए रोजगार के 84 फ़ीसदी अवसर अकेले गुजरात में थे और शेष देश का 16 फ़ीसदी का योगदान रहा था। उन्होने कहा कि हमने वाइब्रेंट गुजरात, मॉडर्न गुजरात और गिफ्ट सिटी आदि योजनाओं के तहत नौकरियों को बढ़ावा दिया है।

आधुनिक शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार की पहल के तहत मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने 35,000 छात्रों को टैबलेट वितरित किए। गुजरात सरकार नमो ई-टैब योजना के तहत 1,000 रूपये टोकन मूल्य के 3,00,000 टैबलेट छात्रों को बाँट रही है। गुजरात सरकार यह टैबलेट उन छात्रों को दे रही है जिन्होंने इस साल उच्च शिक्षा के लिए अपना नामांकन कराया है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने अपने सम्बोधन के दौरान कहा कि गुजरात में भाजपा सरकार ने 80,000 लोगों को नौकरी दी है और 10,00,000 युवाओं के लिए निजी क्षेत्र में रोजगार के अवसर खोले। उन्होंने कहा कि इन नौकरियों की नियुक्ति में पूरी पारदर्शिता बरती गई है और योग्यता ही नौकरियों का आधार रही है।

डिजिटल होगी गुजरात में शिक्षा

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि अब गुजरात में शिक्षा डिजिटल होगी। जल्द ही राज्य के सरकारी स्कूलों में ई-लर्निंग का पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया जायेगा। उन्होंने बताया कि राज्यभर के विभिन्न सरकारी स्कूलों की कक्षा 7 और 8 के 2500 कक्षों को ई-शिक्षा के लिए चुना गया है। इसके लिए अध्यापकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। यह योजना शिक्षक दिवस के अवसर पर 5 सितम्बर से लागू होगी। उन्होंने कहा कि अगर यह योजना शुरूआती दौर में सफल रही तो इसे राज्यभर के स्कूलों में लागू कर दिया जाएगा।

आत्मनिर्भर बनेंगे युवा

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि राज्य सरकार सरकार चाहती है कि प्रदेश के युवा आत्मनिर्भर बनें। इसलिए वह छोटे और मझोले उद्योगों को बढ़ावा दे रही है ताकि युवा रोजगार तलाश ना कर दूसरों के लिए खुद रोजगार के अवसर पैदा करें। उन्होंने हाल ही में राज्य में लगे प्लेसमेंट मेले का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि इस प्लेसमेंट मेले के माध्यम से एक हफ्ते में ही राज्य के 1,09,500 युवाओं को रोजगार मिल गया।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

गन्ने को प्रदेश के औद्योगिक विकास की बुनियाद बनाएंगे : योगी

लखनऊ, 13 नवम्बर(आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को यहां कहा कि भविष्य में गन्ना प्रदेश...

शी चिनफिंग ने एक्रोपोलिस संग्रहालय का दौरा किया

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और उनकी पत्नी फंग लीयुआन ने 12 नवंबर को ग्रीस के राष्ट्रपति प्रोकोपिस पावलोपोलोस दंपति के...

हांगकांग चीन का घरेलू मामला : चीन

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। हांगकांग चीन का हांगकांग है। हांगकांग का मामला चीन का घरेलू मामला है। कोई भी विदेशी सरकार, संगठन और निजी...

मोदी हर काम में पादर्शिता चाहते हैं : साध्वी निरंजन ज्योति

नई दिल्ली, 13 नवंबर (आईएएनएस)। ग्रामीण विकास राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि हर काम...

बीबी की आदतों से आजिज इंजीनियर पति ने जान दे दी

फरीदाबाद, 13 नवंबर (आईएएनएस)। बीबी से आए-दिन होने वाली चिक-चिक से परेशान इंजीनियर ने जहर खा लिया। उसे गंभीर हाल में अस्पताल में दाखिल...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -