बुधवार, जनवरी 22, 2020

राजनाथ सिंह ने दक्षिण कोरियाई समकक्षी से की मुलाकात, संबंधो के विस्तार पर की चर्चा

Must Read

स्टीव स्मिथ का मानना है ऑस्ट्रेलिया के लिए तीनों प्रारूपों में खेल सकते हैं जोश फिलिप

स्टीव स्मिथ को लगता है कि विकेटकीपर-बल्लेबाज जोश फिलिप में आस्ट्रेलिया के लिए तीनों प्रारूपों में खेलने की काबिलियत...

सीएए पर बहस करने को तैयार अखिलेश यादव, गृहमंत्री के ‘डंके की चोट’ शब्द को लेकर कहा, यह राजनेता की भाषा नहीं हो सकती

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि वह नागरिकता कानून (सीएए) और विकास...

महिला निशानेबाज मनु भाकर को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार नहीं मिलने पर पिता ने उठाए सरकार पर सवाल

भारत के लिए ओलम्पिक कोटा हासिल कर चुकी युवा महिला निशानेबाज मनु भाकेर को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार न...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरूवार को दक्षिण कोरियाई समकक्षी जेओंग क्येओंग डू से मुलाकात की थी और दोनों देशो के बीच रक्षा सहयोग की समीक्षा की थी। बैठक के दौरान दोनों पक्ष रक्षा संबंधों में मजीद विस्तार के लिए सहमत हुए थे।

इस मुलाकात के बाद राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि “दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय रक्षा मंत्री जेओंग क्येओंग डू के साथ फलदायी चर्चा हुई थी। मौजूद रक्षा संबंधों ने हालिया वर्षों में काफी बेहतर प्रगति की है। हमने इस संबंधो में अधिक विस्तार के लिए सहमती व्यक्त की है।”

राजनाथ सिंह जापान की यात्रा के बाद दक्षिण कोरिया की दो दिवसीय यात्रा पर आए थे। इस यात्रा का मकसद द्विपक्षीय रक्षा और सुरक्षा संबंधो को बढ़ावा देना था। दक्षिण कोरिया के सहयोग के कारण भारतीय सेना रक्षा उपकरणों का उत्पादन कर रही है।

भारत ने दक्षिण कोरिया के साझेदारी से के-9 वाजरा का इस्तेमाल कर रही है जो दक्षिण कोरिया के क9थंडर की तर्ज पर है। बुधवार को दक्षिण कोरिया की यात्रा पर आने के बाद उन्होंने प्रधानमन्त्री ली नाक यों से मुलाकात की थी और कई द्विपक्षीय संबंधो पर बातचीत की थी। दोनों नेताओं ने दक्षिण कोरिया की न्यू साउथर्न पालिसी और भारत की एक्ट ईस्ट पालिसी के एकसमान लक्ष्यों को साझा किया था।

पांच राष्ट्रों की यात्रा के दूसरे चरण में राजनाथ सिंह सीओल पंहुच गए हैं। इस यात्रा का उद्देश्य भारत के साथ रक्षा और सुरक्षा सम्बंधो को मजबूत करना है। एक बिज़नेस टू गवर्मेन्ट के सीईओ के सम्मेलन का आयोजन होगा। इसमे दोनो पक्षो के रक्षा अधिकारी शामिल होंगे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

स्टीव स्मिथ का मानना है ऑस्ट्रेलिया के लिए तीनों प्रारूपों में खेल सकते हैं जोश फिलिप

स्टीव स्मिथ को लगता है कि विकेटकीपर-बल्लेबाज जोश फिलिप में आस्ट्रेलिया के लिए तीनों प्रारूपों में खेलने की काबिलियत...

सीएए पर बहस करने को तैयार अखिलेश यादव, गृहमंत्री के ‘डंके की चोट’ शब्द को लेकर कहा, यह राजनेता की भाषा नहीं हो सकती

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि वह नागरिकता कानून (सीएए) और विकास को लेकर भाजपा के लोगों...

महिला निशानेबाज मनु भाकर को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार नहीं मिलने पर पिता ने उठाए सरकार पर सवाल

भारत के लिए ओलम्पिक कोटा हासिल कर चुकी युवा महिला निशानेबाज मनु भाकेर को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार न मिलने पर उनके पिता रामकिशन...

पाकिस्तान : पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने कहा, कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी इमरान सरकार

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार की आलोचना करते हुए...

चीन : कोरोना वायरस से हुए निमोनिया के 440 नए मामलों की पुष्टि

चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने कोरोना वायरस से होने वाले निमोनिया के 440 नए मामलों की पुष्टि होने की बुधवार को घोषणा की। देश में...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -