मंगलवार, नवम्बर 12, 2019

राजनाथ सिंह ने दक्षिण कोरियाई समकक्षी से की मुलाकात, संबंधो के विस्तार पर की चर्चा

Must Read

मप्र : शिवपुरी में स्वच्छ भारत मिशन का शौचालय ढहा, 2 आदिवासी बच्चों की मौत

भोपाल, 12 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय के...

आयात एक्सपो में काफी संख्या में अमेरिकी प्रदर्शक

बीजिंग, 12 नवंबर (आईएएनएस)। चीन अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो की आयोजन समिति द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, वर्तमान एक्सपो में...

भाजपा महासचिव ने फडणवीस को बताया मैन ऑफ द मैच, शिवसेना पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 12 नवंबर,(आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के महासचिव(संगठन) बीएल संतोष ने महाराष्ट्र में अब तक के राजनीतिक घटनाक्रम...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरूवार को दक्षिण कोरियाई समकक्षी जेओंग क्येओंग डू से मुलाकात की थी और दोनों देशो के बीच रक्षा सहयोग की समीक्षा की थी। बैठक के दौरान दोनों पक्ष रक्षा संबंधों में मजीद विस्तार के लिए सहमत हुए थे।

इस मुलाकात के बाद राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि “दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय रक्षा मंत्री जेओंग क्येओंग डू के साथ फलदायी चर्चा हुई थी। मौजूद रक्षा संबंधों ने हालिया वर्षों में काफी बेहतर प्रगति की है। हमने इस संबंधो में अधिक विस्तार के लिए सहमती व्यक्त की है।”

राजनाथ सिंह जापान की यात्रा के बाद दक्षिण कोरिया की दो दिवसीय यात्रा पर आए थे। इस यात्रा का मकसद द्विपक्षीय रक्षा और सुरक्षा संबंधो को बढ़ावा देना था। दक्षिण कोरिया के सहयोग के कारण भारतीय सेना रक्षा उपकरणों का उत्पादन कर रही है।

भारत ने दक्षिण कोरिया के साझेदारी से के-9 वाजरा का इस्तेमाल कर रही है जो दक्षिण कोरिया के क9थंडर की तर्ज पर है। बुधवार को दक्षिण कोरिया की यात्रा पर आने के बाद उन्होंने प्रधानमन्त्री ली नाक यों से मुलाकात की थी और कई द्विपक्षीय संबंधो पर बातचीत की थी। दोनों नेताओं ने दक्षिण कोरिया की न्यू साउथर्न पालिसी और भारत की एक्ट ईस्ट पालिसी के एकसमान लक्ष्यों को साझा किया था।

पांच राष्ट्रों की यात्रा के दूसरे चरण में राजनाथ सिंह सीओल पंहुच गए हैं। इस यात्रा का उद्देश्य भारत के साथ रक्षा और सुरक्षा सम्बंधो को मजबूत करना है। एक बिज़नेस टू गवर्मेन्ट के सीईओ के सम्मेलन का आयोजन होगा। इसमे दोनो पक्षो के रक्षा अधिकारी शामिल होंगे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

मप्र : शिवपुरी में स्वच्छ भारत मिशन का शौचालय ढहा, 2 आदिवासी बच्चों की मौत

भोपाल, 12 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय के...

आयात एक्सपो में काफी संख्या में अमेरिकी प्रदर्शक

बीजिंग, 12 नवंबर (आईएएनएस)। चीन अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो की आयोजन समिति द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, वर्तमान एक्सपो में अमेरिकी प्रदर्शनी क्षेत्र लगभग 47,500...

भाजपा महासचिव ने फडणवीस को बताया मैन ऑफ द मैच, शिवसेना पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 12 नवंबर,(आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के महासचिव(संगठन) बीएल संतोष ने महाराष्ट्र में अब तक के राजनीतिक घटनाक्रम में देवेंद्र फडणवीस को मैन...

चिप से स्मार्टफोन को बनाएं कार की चाभी

नई दिल्ली, 12 नवंबर (आईएएनएस)। एनएक्सपी सेमीकंडक्टर ने मंगलवार को घोषणा करते हुए कहा कि उसने अपने अल्ट्रा-वाइडबैंड (यूडब्ल्यूबी) चिप को नए ऑटोमोटिव इंटिग्रेटेड...

झारखंड : 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी लोजपा, जारी किए 5 उम्मीदवारों के नाम (लीड-2)

नई दिल्ली, 12 नवंबर (आईएएनएस)। केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुआई वाले सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल लोक जनशक्ति पार्टी...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -