शुक्रवार, दिसम्बर 13, 2019

योगी राज में ढहाया गया गोरखपुर के भाजपा पार्षद का अवैध कब्जा

Must Read

उत्तर प्रदेश में भूख और ठंड से सरकारी गौशाला में 22 गायों की मौत, 2 कर्मचारी निलंबित

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की अतर्रा कान्हा पशु आश्रय केंद्र (सरकारी गौशाला) में कथित रूप से भूख और...

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त...
गोरखपुर, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के राज्य में उन्हीं के गृह जनपद गोरखपुर में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पार्षद रामभुआल कुशवाहा का अवैध कब्जा ढहा दिया गया है। हलांकि इस कार्रवाई का किसी ने विरोध नहीं किया।

अधिकारियों ने बताया कि कान्हा उपवन के निर्माण के समय अफसरों को गलत जानकारी देकर इसमें अवैध निर्माण करा लिया गया था। उस दौरान बताया गया था कि नगर-निगम की जमींन वहीं तक ही है। उस दौरान अफसरों ने भी इसकी पड़ताल नहीं की और पार्षद ने जिस तरह बताया उसी तरह चाहरदीवारी तैयार कर दी गई।

अपर नगर आयुक्त अनिल कुमार सिंह ने बताया, कान्हा उपवन की जमीन के एक हिस्से का कब्जा ध्वस्त कर दिया गया है। पैमाइश के दौरान करीब एक एकड़ जमीन पर कब्जा पाया गया था। इनमें करीब 47 डिसिमल जमीन पर भी कुछ छोटे-छोटे निर्माण कराए गए थे, जिन्हें ध्वस्त करा दिया गया है। राजस्व और नगर-निगम के दस्तावेज में यह जमीन सरकारी संपत्ति के रूप में दर्ज है।

आयुक्त जयंत नर्लिकर का कहना है, खाली कराई गई जमीन पर कान्हा उपवन को और विस्तार रूप दिया जाएगा। एक एकड़ जमीन बढ़ जाने से गौवंशों को विचरण करने में आसानी होगी। सरकारी जमीन पर एक इंच कब्जा नहीं करने दिया जाएगा। इस पर कब्जा करने वालों पर प्रशासन सख्ती से निपटेगा और एंटी-भूमफिया एक्त के तहत कार्रवाई भी करेगा।

उधर पार्षद रामभुआल कुशवाहा ने बताया, अभी इस बारे में कुछ कहना ठीक नहीं है। क्योंकि मामला कोर्ट में है। मैं नगर-निगम के खिलाफ कोर्ट में अवमानना का मामला दखिल करूंगा।

ज्ञात हो कि कान्हा उपवन के पास नगर-निगम की जमीन पर कब्जा को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाराजगी जताई थी। उन्होंने तत्काल कार्रवाई कर जमीन छुड़वाने के निर्देश दिए थे। उन्होंने चेतावनी भी दी थी इस कार्रवाई में कोई टांग अड़ाएगा या कुछ विवाद हुआ तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब हो कि कान्हा उपवन की तकरीबन दो एकड़ जमीन पर कब्जा है। आरोप है कि एक एकड़ जमीन पर महेवा वार्ड के पार्षद रामभुआल कुशवाहा का कब्जा है। महेवा वार्ड में ही कान्हा उपवन आता है। कुछ दिनों पहले नगर निगम कार्यकारिणी के उपसभापति व कान्हा उपवन की व्यवस्था सुधारने के लिए गठित समिति के चेयरमैन भाजपा पार्षद बृजेश सिंह छोटू ने नगर आयुक्त को पत्र लिखकर कान्हा उपवन की जमीन पर हुए कब्जे को ढहाने की मांग की थी। इसकी जानकारी नगर निगम आयुक्त जयंत नार्लिकर को भी दी गई थी। उनके निर्देश पर कान्हा उपवन की जमीन की नाप ली गई थी।

कब्जे की बात अफसरों ने भी स्वीकार की थी।

–आईएएनएस

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश में भूख और ठंड से सरकारी गौशाला में 22 गायों की मौत, 2 कर्मचारी निलंबित

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की अतर्रा कान्हा पशु आश्रय केंद्र (सरकारी गौशाला) में कथित रूप से भूख और...

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं। फिल्म को देखने के बाद...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त सैन्य विमान से किसी भी...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष है। शेष दो चरणों के...

अरुणाचल के लोवर डिबांग वैली में जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी शुरू

देश की सबसे कठिन और सबसे रोमांचक ऑफ रोडिंग प्रतियोगिताओं में से एक जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी का शुक्रवार को यहां लोवर डिबांग...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -