दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन चौथी दफा किम जोंग उन से कर सकते हैं मुलाकात

मून जे इन

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन चौथी दफा उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन से मुलाकात करने की इच्छा रखते हैं। हाल ही में उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच हुई दूसरी मुलाकात बगैर किसी समझौते के खत्म हो गयी थी। किम जोंग उन ने शुक्रवार को कहा था कि वह डोनाल्ड ट्रम्प के साथ तीसरे शिखर सम्मलेन के लिए तैयार है।

दक्षिण कोरिया की भूमिका

पियोंयांग ने वियतनाम में आयोजित दूसरे शिखर सम्मेलन में प्रतिबंधों से पूरी तरह से निजात देने की मांग की थी जिसे अमेरिका ने ठुकरा दिया तह और इस कारण दोनों के बीच बगैर किसी समझौते के अचानक सम्मेलन को रद्द कर दिया गया था। हालाँकि दोनों नेताओं के निजी सम्बन्ध काफी मधुर है।

वांशिगटन और पियोंगयांग के बीच परमाणु वार्ता में मून जे इन मध्यस्थता का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने किम जोंग उन की पहली परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रतिबद्धता का स्वागत किया था और कहा कि वह चौथी बार उत्तर कोरिया के नेता से मुलाकात के इच्छुक है।

मून जे इन ने एक बैठक में कहा कि “जितनी जल्द उत्तर कोरिया तैयार होगा, मेरे ख्याल से दोनों कोरियाई देश एक साथ बैठेंगे। मैंने कोई अत्यधिक प्रयास नहीं किये हैं कि आगामी कोरियाई मुलाकात एक बड़ा अवसर हो या अधिक सार्थक परिणाम दे।”

परमाणु वार्ता ठप

विगत हफ्ते मून जे इन ने डोनाल्ड ट्रम्प से वांशिगटन के व्हाइट हाउस मुलाकात की थी और इस बातचीत में उत्तर कोरिया का परमाणु निरस्त्रीयकरण एक अहम मुद्दा था। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति उत्तर कोरिया के साथ काफी लम्बे अरसे से संपर्क में हैं और कोरियाई आर्थिक परियोजनाओं को बहाल करने पर काफी जोर दे रहे हैं।

डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन के बीच बीते वर्ष सिंगापुर में पहली ऐतिहासिक मुलाकात हुई थी। इस दौरान संयुक्त बयान में दोनों नेताओं ने पेनिनसुला में परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रतिबद्धता जाहिर की थी। वांशिगटन ने उत्तर कोरिया की प्रतिबंधों से निजात की मांग को समझौते पर न पंहुचने को जिम्मेदार बताया था लेकिन पियोंगयांग के मुताबिक वह सिर्फ कुछ प्रतिबंधों से मुक्ति चाहता है।

किम जोंग उन ने शुक्रवार को संसद में कहा कि “हनोई की मुलाकात वांशिगटन के मंसूबो पर सवाल खड़ा करती है लेकिन वह अमेरिका द्वारा किसी साहसिक निर्णय के लिए इस वर्ष के अंत तक संयमता से प्रतीक्षा करेंगे। साथ ही वह तीसरी मुलाकात के लिए भी तैयार है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here