महँगाई के खिलाफ वाराणसी में सड़क पर उतरे कांग्रेसी, प्याज-टमाटर बेचा

वाराणसी में सड़क पर उतरे कांग्रेसी
महँगाई के खिलाफ वाराणसी में सड़क पर उतरे कांग्रेसी

महँगाई की मार से आम जनता त्रस्त है। रोजमर्रा की जरुरत की वस्तुओं के रोज बढ़ रहे दामों से जनता में रोष व्याप्त है। इस मुद्दे पर उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक राजधानी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मोर्चा निकाला। इसमें उन्होंने योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रदेश में हो रही घटनाओं से लोगों को हो रही दिक्कतों का भी मुद्दा उठाया। इस दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश के युवा कांग्रेस अध्यक्ष नीरज त्रिपाठी और कांग्रेस की प्रदेश सचिव श्वेता राय के नेतृत्व में कार्यकर्ता कशी हिन्दू विश्वविद्यालय के सिंहद्वार पर एकत्रित हुए। वहाँ से उन्होंने रविन्द्रपुरी क्षेत्र में स्थित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जनसम्पर्क कार्यालय की तरफ बढ़ना शुरू कर दिया।

मनमोहन सरकार से तुलना

कांग्रेस कार्यकर्ता मोर्चे में प्याज, टमाटर के ठेले लेकर आगे बढ़ रहे थे। पुलिस ने जब ठेला ले जा रहे कांग्रेस कारकर्ताओं को पद्मश्री चौराहे पर रोका तो उनकी पुलिस से धक्कामुक्की होने लगी। धक्कामुक्की के बीच कांग्रेस कार्यकर्ता बैरिकेडिंग तोड़कर प्रधानमंत्री जनसम्पर्क कार्यालय तक पहुँचाने में सफल रहे। कार्यालय के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महँगाई की तरफ ध्यान दिलाने के लिए प्रतीकात्मक तौर पर प्याज और टमाटर बेचे। कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन के दौरान अपने हाथों में तख्तियां लिए हुए थे। उन तख्तियों पर मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार और नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के शासनकाल के दौरान सब्जियों के दामों का अंतर दर्शाया गया था। कुछ तख्तियां पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों की तरफ भी इशारा कर रही थी। उनपर लिखा गया था कि सरकार पेट्रोल-डीजल पर टैक्स भार लगातार बढ़ाए जा रही है।

योगी सरकार भी रही निशाने पर

अपने प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लोगों में प्याज-टमाटर भी बाँटने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि जब भी भाजपा की सरकार आती है तो जमाखोरों की चाँदी हो जाती है। देश और प्रदेश दोनों जगह भाजपा का शासन है। आज इसी वजह से प्याज 40-50 रूपये और टमाटर 70-80 रूपये किलो मिल रहा है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नीरज त्रिपाठी ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार आम जनता, युवाओं, किसानों और व्यापारियों के साथ विश्वासघात कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार की जनविरोधी नीतियों का हम सड़क से संसद तक विरोध करेंगे।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर भी निशाना साधा। गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत का जिक्र करते हुए कांग्रेस की प्रदेश सचिव श्वेता राय ने कहा कि सरकार की लापरवाही और संवेदनहीनता से मासूम बच्चों की जान चली गई।