पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के मामले में 1 गिरफ्तार

कोलकाता, 26 मई (आईएएनएस)| पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में लोकसभा चुनाव के नतीजों की घोषणा के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या करने के मामले में शनिवार को एक 25 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी।

चकदाहा में शांतू घोष को शुक्रवार रात उनके घर के बाहर गोली मारी गई। उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जिसके बाद डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

नदिया जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “25 वर्षीय भारत बिश्वास उर्फ पोचन को शनिवार को गिरफ्तार करने के बाद रविवार को अदालत में पेश किया गया।”

यह पूछे जाने पर कि क्या इस घटना का कोई राजनीतिक संबंध है, अधिकारी ने कहा कि हत्या के मामले में पुलिस को ‘शुरुआती जांच में कोई राजनीतिक संबंध नहीं मिला है।’

अदालत में पेशी के लिए जा रहे बिश्वास ने संवाददाताओं को बताया कि वह हत्या के दिन घटनास्थल पर मौजूद था, लेकिन अपने मोबाइल फोन पर सफिर्ंग में व्यस्त था।

उसने कहा, “मैं उस इलाके से भाग गया जब लाल्टू नाम के एक लड़के ने शांतू को गोली मार दी। मैं बहुत डरा हुआ था।”

अधिकारी ने कहा, “आरोपी, शांतू को जानता था। अभी सब कुछ जांच के दायरे में है।”

तृणमूल कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने शनिवार को लगभग दो घंटे के लिए एक राष्ट्रीय राजमार्ग और रेलवे पटरियों को अवरुद्ध कर दिया, जिससे सियालदाह मंडल में ट्रेन सेवाओं पर असर पड़ा।

भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख दिलीप घोष ने दावा किया कि पार्टी के कार्यकर्ता शांतू को तृणमूल ने निशाना बनाया क्योंकि उसने लोकसभा चुनावों के दौरान भाजपा के लिए कड़ी मेहनत की थी।

इस घटना के बारे में पूछे जाने पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसे भाजपा की आपसी लड़ाई करार दिया।

पंकज सिंह चौहान: पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।