जीत पर विश्वास जताते हुए, नवीन पटनायक ने प्रधानमंत्री मोदी को शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित किया

नवीन पटनायक

ओडिसा में सत्ता के लिए फिर से चुने जाने पर विश्वास जताते हुए, बीजेडी के सुप्रीमोंं और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 23 मई को चुनाव परिणाम घोषणा के बाद अपने शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया।

तटीय राज्य चार चरणों में एक साथ विधानसभा और लोकसभा चुनाव कर रहा हैं।

बालासोर निर्वाचन सीट पर एक रैली को संबोधित करते हुए, जहां 23 को चुनाव होने हैं, नवीन पटनायक ने कहा कि उनकी पार्टी ने राज्य में सरकार बनाने के लिए पहले तीन चरणों में ही पर्याप्त वोट प्राप्त कर लिए हैं।

उन्होंने कहा, मंगलवार को प्रधानमंत्री ने कहा था कि वह बीजेडी के सरकार से बाहर होने के बाद ओडिशा का दौरा करेंगे। बीजेडी ने पहले तीन चरणों में ही बहुमत हासिल कर लिया हैं। मैं विनम्रतापूर्वक बीजेडी सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के लिए उनको आमंत्रित करता हूं।

पटनायक का यह बयान प्रधानमंत्री मोदी के केंद्रपाडा में एक चुनावी रैली के दौरान, “नवीन बाबू आपका जाना तय हैं” के कहने के एक दिन बाद आया।

एक तीखे हमले में, बीजेडी के मालिक, जिनका राज्य में पांचवां कार्यकाल चल रहा हैं, ने आरोप लगाया की प्रधानमंत्री मोदी चुनाव के दौरान ही ओडिशा का दौरा करते है, संकट के समय नही करते।

उन्होंने दावा किया, प्रधानमंत्री बाढ़, चक्रवात या सूखे के समय कभी ओडिशा नही आए। तब उनके पास समय नही था। अब, चूंकि से चुनाव चल रहे हैं, वह लगातार मगरमच्छ के आँसू बहाने के लिए राज्य का दौरा कर रहे हैं।

बालासोर के विकास के लिए केंद्र का योगदान का एक उदाहरण देते हुए, सीएम ने कहा उनकी सरकार ने 250 करोड़ रुपये यहां फकीर मोहन मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की स्थापना करने के लिए खर्च किए जबकि केंद्र सरकार ने केवल 100 करोड़ रुपये दिए।

उन्होंने ने ओडिशा को स्वाभिमानी ओडिशा को गंदी राजनीति का जवाब देने का आहृन किया।

पटनायक के आरोपों को छोड़कर, भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्र मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री ने पिछले पांच सलों में कई अवसरों राज्य का दौरा किया हैं।

प्रधान ने कहा, कि नवीन पटनायक अपने झूठ से लोगों को गुमराह कर रहे हैं। विकास परियोजनाओं के उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री ने पिछले पांच सलों में राज्य का कई बार दौरा किया हैं। मुख्यमंत्री इन यात्राओं के दौरान प्रधानमंत्री के साथ थे।

उन्होंने कहा कि, हिंसा और झूठ बीजेडी का चुनावी आधार हैं।

मोदी ही नही, भाजपा के वरिष्ठ नेता, नरेंद्र सिंह तोमर, उमा भारती, पीयुष गोयल और नितिन गडकरी भी विभिन्न कारणों से राज्य का दौरा कर चुके हैं। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने माओवादी बेल्ट की स्थिति की समीक्षा के लिए कोरापुट में एक रात बिताई थी।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here