Sun. Nov 27th, 2022
    नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, अहमदाबाद रेलवे स्टेशन और मुंबई में छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस का होगा पुनर्विकास

    केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को देश के तीन प्रमुख रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास के भारतीय रेलवे के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। ये नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, अहमदाबाद रेलवे स्टेशन और मुंबई में छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस हैं।

    रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, “तीन रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास का काम ढाई साल में पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा, पुनर्विकास परियोजना के लिए निविदा प्रक्रिया 10 दिनों के भीतर जारी की जाएगी। इस परियोजना में 10,000 करोड़ रुपये का निवेश शामिल है। पुनर्विकसित स्टेशन यात्रियों को विश्व स्तरीय सुविधाएं प्रदान करेंगे।”

    मंत्री ने कहा, देश भर में 199 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास कार्य की मास्टर प्लानिंग चल रही है। उन्होंने कहा, 47 स्टेशनों के लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं और 32 स्टेशनों पर काम चल रहा है. उन्होंने कहा, पुनर्विकास कार्यों पर 60 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। दिल्ली, अहमदाबाद और मुंबई स्टेशनों के पुनर्विकास से 35 हजार 744 नई नौकरियों के सृजन में मदद मिलेगी।

    स्टेशन डिजाइन के प्रस्तावित मानक तत्व सम्मिलित होंगे: प्रत्येक स्टेशन में एक ही स्थान पर सभी यात्री सुविधाओं के साथ खुदरा, कैफेटेरिया, मनोरंजन सुविधाओं के लिए एक विशाल रूफ प्लाजा होगा। रेलवे ट्रैक के दोनों ओर स्टेशन भवन के साथ शहर के दोनों किनारों को स्टेशन से जोड़ा जाएगा। फूड कोर्ट, वेटिंग लाउंज, बच्चों के खेलने की जगह, स्थानीय उत्पादों के लिए जगह आदि सुविधाएं भी उपलब्ध होंगी। शहर के भीतर स्थित स्टेशनों में सिटी सेंटर जैसी जगह होगी। पर्याप्त पार्किंग सुविधाओं के साथ यातायात के सहज संचालन के लिए मास्टर प्लान तैयार किया गया है।

    रेल मंत्रालय ने स्टेशन डिजाइन के प्रस्तावित मानक के बारे अतिरिक्त जानकारी दी- परिवहन के अन्य साधनों जैसे मेट्रो, बस आदि के साथ एकीकरण होगा। सौर ऊर्जा, जल संरक्षण या रिसाइकिलिंग और बेहतर ट्री कवर के साथ ग्रीन बिल्डिंग तकनीक का उपयोग किया जाएगा। दिव्यांगजनों के अनुकूल सुविधाएं उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। इन स्टेशनों को इंटेलिजेंट बिल्डिंग की अवधारणा पर विकसित किया जाएगा। आगमन अथवा प्रस्थान का पृथक्करण, अव्यवस्था मुक्त प्लेटफॉर्म, बेहतर सतह, पूरी तरह से ढके हुए प्लेटफॉर्मों का निर्माण किया जाएगा। सीसीटीवी और एक्सेस कंट्रोल लगाने से रेलवे स्टेशन सुरक्षित रहेंगे। ये प्रतिष्ठित स्टेशन भवन होंगे।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *