दा इंडियन वायर » विदेश » उत्तर कोरिया ने कम दूरी तक मार करने वाली मिसाइल दागी
विदेश

उत्तर कोरिया ने कम दूरी तक मार करने वाली मिसाइल दागी

शार्ट रेंज मिसाइल

उत्तर कोरिया ने शनिवार को पूर्वी तटीय शहर वोनसान में अज्ञात शॉर्ट रेंज मिसाइल दागी है। इस जानकारी को दक्षिण कोरियाई जॉइंट चीफ ऑफ़ स्टॉफ ने साझा की है।

बीबीसी के मुताबिक इस मिसाइल को पूर्वी दिशा की तरफ स्थानीय समय 9:06 बजे सुबह दागा गया था।

मिसाइल का परीक्षण

दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) की ओर से बयान जारी कर यह जानकारी दी गई।

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, जेसीएस ने कहा कि अज्ञात मिसाइलों को सुबह 9.06 और 9.27 बजे के बीच उत्तर कोरिया के पूर्वी तट से लगे होदो प्रायद्वीप के वोनसन के पास से प्रक्षेपित किया गया।

जेसीएस ने कहा, “हमारी सेना उत्तर कोरिया की गतिविधियों को करीब से देख रही है और उसने अमेरिका के साथ करीबी समन्वय में हालात पर पूरी नजर बना रखी है।”

जेसीएस के अनुसार, मिसाइलों ने पूर्वी सागर में 70 से लेकर 100 किलोमीटर तक की दूरी की उड़ान भरी।

अमेरिका और दक्षिण कोरिया के विभाग मिसाइल की जानकारी का विश्लेषण कर रहे हैं। अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर बातचीत जारी है और ऐसे में पियोंगयांग का परिक्षण इस वार्ता को प्रभावित कर सकता है।

डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन की परमाणु निरस्त्रीकरण पर दूसरा शिखर सम्मेलन हनोई में फरवरी में आयोजित हुआ था लेकिन आपसी मतभेदों के कारण इस आयोजन को बगैर किसी समझौते के रद्द कर दिया गया था। इस हफ्ते की शुरुआत में दो प्रमुख दक्षिण कोरिया और अमेरिका के परमाणु राजदूतों ने कोरियाई पेनिनसुला में शांति के बाबत वार्ता की थी।

कोरियाई पेनिनसुला के शान्ति और सुरक्षा के विशेष प्रतिनिधि ली दू हून और अमेरिका के उत्तर कोरिया में राजदूत स्टेफेन बेगुन ने टेलीफोन पर चर्चा की थी। इस दौरान उन्होंने दुसरे सम्मेलन के विफल होने के बाद पेनिनसुला की स्थिति के बाबत चर्चा की थी।

अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच संबंधों में प्रतिबंधों से निजात को लेकर दरार आयी थी। पियोंगयांग की मुताबिक, अमेरिका को परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए पहले प्रतिबंधों को आसान करना होगा जिसके लिए इस वर्ष के अंत तक की समयसीमा दी गयी है। अमेरिका के अनुसार जब तक उत्तर कोरिया पूर्ण, निरीक्षित परमाणु हथियारों को नष्ट नहीं कर देता, प्रतिबंधों से निजात देना मुमकिन नहीं है।

हाल ही में उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की निगरानी में देश में परमाणु हथियार का परिक्षण किया गया था। विश्लेषकों के मुताबिक, यह कम मारक क्षमता क्रूज मिसाइल हो सकती है।

About the author

कविता

कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!