अमेरिका पर मंडराया ‘फ्लोरेंस’ तूफान का साया

अमेरिका पर समुंद्री तूफ़ान फ्लोरेंस का खतरा मंडरा रहा है। अमेरिकी अधिकारियों ने आगाह किया है कि यह तूफ़ान तबाही मचा सकता हैं। यह समुंद्री तूफ़ान अमेरिका के पूर्वी तट के काफी नजदीक पहुंच चुका है जिससे लोगों की जान पर खतरा बना हुआ है।

बाढ़ और तेज़ हवाओं की आफत

मामले से जुड़े अधिकारी ब्रोक लोंग ने कहा कि यह समुंद्री तूफ़ान तेज़ी से अमेरिका की तरफ बढ़ रहा है।

इससे निकटवर्ती इलाकों में बाढ़ आ सकती है साथ ही समुंद्री तूफ़ान की रफ़्तार अनुमानित 165 कि.मी. प्रति घंटा है। बाढ़ और तेज़ हवाओं से अमेरिका को काफी नुकसान होने की सम्भावना है।

कई इलाकों में हो सकता है जलभराव

अमेरिकी अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि बाढ़ से कई इलाकों में पानी भर जायेगा। दक्षिण करौलिना और वर्जिनिया समेत कई क्षेत्रों में हालात खराब होने शुरु हो गए है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार जल्द ही चौतरफा पानी फैल जाएगा।

बाढ़ग्रसित क्षेत्रों में जारी की चेतावनी

करौलिना की सड़के पानी से पटी पड़ी है। बाढ़ के खतरनाक आसार को देखते हुए मौसम विभाग ने लोगों को कहा है कि वे अपने घरों मे सुरक्षित स्थानों पर रहे।

संकटग्रसत क्षेत्रों से 17 लाख लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का आदेश दिया गया है। लगभग 1400 उड़ाने रद्द कर दी गई है।

क्या है फ्लोरेंस तूफान

नेशनल हेरिकेन सेंटर के मुताबिक फ्लोरेंस समुंद्री तूफान श्रेणी 2 का चक्रवात है जिसकी हवाएं 155 कि.मी. प्रति घंटा दर से चलेंगी।

इस तूफान का मुख्यत प्रभावित क्षेत्र उत्तरी और दक्षिणी कैरोलाइना व वर्जिनिया होंगे। इस तूफान की वजह से लाखों घरों को बिजली से वंचित रहना होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here